How To Improve CIBIL Score Quickly: सिबिल स्कोर हो गया ख़राब या कम है? चिंता नहीं ऐसे बढ़ाओ अपना सिबिल स्कोर

जी हां, इस लेख के माध्यम से हम आपको कम या खराब सिबिल स्कोर में किस तरह सुधार करें (How To Improve CIBIL Score Quickly) इससे संबंधित कुछ तरीके बताएंगे, इन तरीकों को अपनाकर आप अपने सिबिल स्कोर में सुधार कर सकेंगे।

Photo of author

Written by Shivani Banduni

verified (1)

Published on

How To Improve CIBIL Score

How To Improve CIBIL Score Quickly: अक्सर अपने देखा होगा, कई बार लोगों के बैंक से लोन आवेदन रिजेक्ट हो जाते हैं, लोन आवेदन अप्रूव्ड नही होने के पीछे बहुत से कारण हो सकते हैं। इनमे आवेदनकर्ता का सिबिल स्कोर लोन के लिए एक अहम भूमिका निभाता है, सिबिल स्कोर यदि अच्छा है तो आपका आवेदन बिना किसी समस्या के अप्रूव हो जाता है, वहीं यदि सिबिल स्कोर खराब है या कम होता है तो आपको लोन मिलने में समस्या हो सकती है। हालांकि यदि आपका सिबिल स्कोर खराब हो गया है, तो इसका मतलब ये नही की उसे सुधारा नही जा सकता। आप चाहें तो अपने सिबिल स्कोर में सुधार कर सकते हैं।

सिबिल स्कोर में ऐसे करें सुधार

सिबिल स्कोर व्यक्ति के क्रेडिट इतिहास का तीन अंकों की सांख्यिक सारांश है, जो 300 से 900 तक होती है। सिबिल स्कोर आपके लोन लेने की योग्यता को दर्शाती है, जिससे आपके द्वारा पहले का कोई लोन बकाया है या नही इसकी जानकारी का पता लगने में ऋणदाता को मदद मिलती है। खराब सिबिल स्कोर पर कोई भी ऋणदाता व्यक्ति को लोन देने का जोखिम नही लेना चाहता जिससे उनका लोन आवेदन बार-बार रिजेक्ट हो जाता है, ऐसे में यदि आपका भी सिबिल स्कोर कम है तो आप इन तरीकों को ध्यान में रखकर इसे सुधार सकते हैं।

अपने क्रेडिट रिपोर्ट की कमियों को जांचे

मान लीजिए आपका क्रेडिट रिकॉर्ड अच्छा है, लेकिन आपको फिर भी सिबिल कैलकुलेटर का उपयोग करके अपना सिबिल स्कोर ऑनलाइन चेक करना चाहिए। ऐसा इसलिए क्योंकि कई तरह की ऐसी कमियां होती हैं, जो आपके क्रेडिट स्कोर को प्रभावित कर सकती हैं, उदाहरण के लिए यदि आपका लोन पूरा हो चुका है और आपकी तरफ से इसे बंद कर दिया गया है, लेकिन कुछ प्रशासनिक कमियों के कारण यह एक्टिव दिखाई दे रहा है। तो ऐसे में आप ऐसी संदिग्ध गतिविधियों पर नजर रखकर इसे समय पर ठीक करवा सकते हैं और अपने क्रेडिट स्कोर को भी खराब होने से बचा सके हैं।

गारंटर बनने से बचें

अगर आप किसी के साथ लोन लेने के गारंटर बने हैं और भले ही लोन आपके नाम पर नही लिया गया है। तो उधारकर्ता के एक भी ईएमआई में चूक उनके साथ-साथ आपके क्रेडिट स्कोर को भी प्रभावित कर सकती है। ऐसे में यह जरूरी है की किसी ज्वाइंट अकाउंट होल्डर या लोन का गारंटर बनने से बचें और यदि बनते भी हैं तो किसी विश्वसनीय व्यक्ति का ही गारंटर बने जो आर्थिक रूप से लोन भुगतान करने में सक्षम हो।

समय पर भुगतान करें

यदि आपने पहले से लोन लिया है तो समय पर लोन की ईएमआई का भुगतान न करना एक बड़ी गलती हो सकती है, क्योंकि इससे न केवल आपके क्रेडिट स्कोर पर बुरा प्रभाव पड़ सकता है बल्कि ईएमआई में देरी करने से आपको पेनल्टी भी भरनी पड़ सकती है। ऐसे में यह जरूरी है की आप अपने क्रेडिट स्कोर को बेहतर बनाए रखने के लिए ईएमआई का समय पर भुगतान करें।

अच्छा क्रेडिट बैलेंस बनाएं

अपने क्रेडिट स्कोर में सुधार के लिए सिक्योर्ड और अनसिक्योर्ड लोन का अच्छा क्रेडिट बैलेंस बनाएं। इससे जिन लोगों के पास सिक्योर्ड लोन की संख्या अधिक होती है बैंक या अन्य वित्तीय संस्थान उन्हे लोन देना पसंद करते हैं और ब्यूरो भी उन्हें अच्छी रेटिंग देते हैं। वहीं यदि आपके पास अनसिक्योर्ड लोन की संख्या सिक्योर्ड लोन से अधिक है तो आप अच्छा क्रेडिट बैलेंस बनाएं रखने के लिए पहले अनसिक्योर्ड लोन का भुगतान करें।

लंबी अवधि का चयन करें

आप जब भी किसी बैंक या वित्तीय संस्थान से लोन लेते हैं तो आपको लोन भुगतान के लिए लंबी अवधि का चयन करना चाहिए। इससे आपकी ईएमआई कम होगी और लंबी अवधि होने से आप ज्यादा समय तक बिना अधिक बोझ के अपने लोन का भुगतान आसानी से कर सकेंगे। कई लोग छोटी अवधि के लिए लोन लेते हैं लेकिन ईएमआई अधिक होने के कारण उसे समय पर भुगतान नही कर पाते, जिससे उनका नाम डिफाल्टर लिस्ट में भी शामिल हो जाता है। वहीं लंबी अवधि होने से आप ईएमआई का समय पर भुगतान कर डिफॉल्ट होने से बच सकेंगे और आपका क्रेडिट स्कोर भी खराब नही होगा।

एक समय पर अधिक लोन लेने से बचें

यदि आप अपने क्रेडिट स्कोर को खराब होने से बचाना चाहते हैं, तो यह जरूरी है की एक समय पर एक से अधिक लोन नही लें और पुराने लोन का पहले भुगतान करें। एक बार में कई लोन लेने से आपके पास भुगतान के लिए पैसों की कमी पड़ सकती है और ईएमआई भुगतान में चूक आपके क्रेडिट स्कोर को खराब कर सकती है।

क्रेडिट कार्ड का लिमिट से उपयोग

अगर आपके पास क्रेडिट कार्ड है तो इसे लिमिट से ज्यादा उपयोग न करें और हर महीने अपनी क्रेडिट लिमिट का केवल 30% खर्च करना सुनिश्चित करें। क्रेडिट लिमिट यानी 30% से अधिक का खर्च यह दर्शाता है की आप आप बिना सोचे समझे अधिक खर्चा करते हैं, जिससे आपका क्रेडिट स्कोर भी खराब हो सकता है।

3 thoughts on “How To Improve CIBIL Score Quickly: सिबिल स्कोर हो गया ख़राब या कम है? चिंता नहीं ऐसे बढ़ाओ अपना सिबिल स्कोर”

Leave a Comment

हमारे Whatsaap ग्रुप से जुड़ें